• तालिबान के त्रुटिपूर्ण तर्क और वास्तविक इस्लाम

    तालिबान के त्रुटिपूर्ण तर्क और वास्तविक इस्लाम

    दुनिया जिन स्वयंनियुक्त ईश्वरीय योद्धाओं को तालिबान के नाम से जानती है, पिछले दस वर्षों में वो अनगिनत निर्दोष लोगों की हत्या कर चुके हैं।उनका आग्रह है कि ये सब वो परमेश्वर के लिए और […]

    Continue Reading
  • The Hadith of Ghazwa-e-Hind- An analysis

    The Hadith of Ghazwa-e-Hind- An analysis

    Question The Prophet has said that two groups in my ummah (group of my followers) shall be successful. One which fights in Hind (India) and the other that accompanies Hadhrat Isa (Jesus) when he comes […]

    Continue Reading
  • ग़ज़वा-ए-हिन्द की कमज़ोर और ग़लत रिवायात का जायज़ा

    ग़ज़वा-ए-हिन्द की कमज़ोर और ग़लत रिवायात का जायज़ा

    (Read the original article in Urdu: http://www.javedahmadghamidi.com/books/view/ghazwa-e-hind-ki-kamzor-aur-ghalat-riwayaat-ka-jaiza) लेखक: मुहम्मद फारूक खां अनुवाद: मुहम्मद असजद हमारे दीन की तालीमात (शिक्षाएँ) बिलकुल साफ़ और वाज़ेह हैं, क्योंकि उन की बुनियाद कुरआन मजीद और सहीह हदीसों[1] पर है। कुरआन […]

    Continue Reading
  • Al-Mawrid Hind Foundation

    Al-Mawrid Hind Foundation

    As a legatee of the rich intellectual tradition in Muslim history, Al-Mawrid Hind Foundation is a unique institution of learning. A deep concern over the dearth of suitable approaches to Islamic learning in our times […]

    Continue Reading
  • दीन और अक़ल

    दीन और अक़ल

    लेखक: जावेद अहमद गामिदी अनुवादक : मुश्फ़िक़ सुल्तान हमारे यहाँ लोग अक्सर कहते हैं कि दीन का अक़ल से क्या संबन्ध? यह तो बस मान लेने की चीज़ है। इस के लिए अली रज़ी अल्लाहो […]

    Continue Reading
  • The Source of Religion

    The Source of Religion

    (written for young minds) When God created man, he implanted two things in him: first, the perception that he has a creator who is his master and second: recognition of a good deed and a […]

    Continue Reading

Recent Posts